All posts by साहित्यांगन टीम

प्रकाश उदय : बड़ा बड़ा फेरा बा …..

प्रकाश उदय —-” बड़ा बड़ा फेरा बा …..”

भासा क मोती

लेखक : भोला प्रसाद ‘आग्नेय’

कि मन से धक हो गइल बा बुढ़ौती निहार के ….. _____(तंग इनायतपुरी )

तंग इनायतपुरी —-” कि मन से धक हो गइल बा बुढ़ौती निहार के ….. (भोजपुरी गज़ल)”